24 May 2013

जय शिव शंकर


जय शिव शंकर तुम हो पालनहारी,
तुमसे ही तो  चलती है यह सृष्टि सारी  l 

गंगा को दिया मान,
धर अपने शीश पर दिया सम्मान l 

तुम विषधारी फिर भी हो शुभकारी,
सब जनों के तुम हो अधिकारी l 

नागों का हार गले में तुम्हारे,
मुंडमाला तुम्हें सवारें l 

फिर भी तुम हो मंगलकारी,
इस जग के पालनहारी l 



2 comments:

आभार है मेरा

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...